वीर जवान

   by   Hemant Singh      /   last updated on - Aug 23, 2020

[ Please refresh if you are shown irrelevant/disturbing ads . ]


Veer Jawan , this poem is on the fearlessness of our soldiers . There sacrifice for our country .It shows how for them nation is above all . And we are proud to have them.
So give a read for the sacrifice of our soldiers.

यह कविता हमारे वीर जवानो के शौर्ये और उनके बलिदान पे है , और हमे गर्व है अपने जवानो पे | आइये याद करे उनके बलिदान को |

वीर जवान

मिट्टी से बनते है,
मिट्टी में ही मिलना है |

फर्क है उस मिट्टी का
जिससे चौडा सीना है |

आँख उठाके देखे जो
आँख नोचे महान सेना है |

मर मिटने को तैयार लाखो , मर मिटे लाखो है,
मिटने न देंगे ,यादो में हर पल जिन्दा है|

जंगल का राजा सिंह है , देश के वीर जवान है
दहाड से अपनी इनने हिमालय को भी दहलाया है|

शौर्य है , धैर्य है
क्रोध है जज्बात हैं ,
मानवता भी इनमे , अमानवता का काल है |

लांग ते ये पर्वतो को , नदी को एक छलांग में
सामने अड़े कोई तो ये सिंह सी दहाड़ दे |
हो रेत का समंदर या जमी दलदल की ,
कदम कभी डगमगाए ना हर चुनौती को ये जीतते |

देश भक्ति का यह परम पद हैं,
इनसे बड़ा देश भक्त नहीं |
रख के जान हथेली पे,
निकल पड़े अपनों से दूर अपनों क लिए|

परिचित हर स्याही है इनकी शौर्य गाथाओ से
बांध सकता नहीं कोई एक कविता में |

सलाम इनके शौर्य को ,इनके असीम साहस को ,
सुरक्षित रखना माँ अपने वीर सपूतो को |


       - हेमंत सिंह




Also read my poem:Khwab m bhi jeeta hu Click here
Also see this art:Uttrakhand Tradition Using Art Click here
Also see blog :About Mandala art and beautiful designs Click here
Also read this :Health and its important aspects Click here
Also read 2012 best nominated novel review :The Devotion Of Suspect X Click here
Also read poem :Beenam Rishta Click here
Also read this :India's Unfought War With China Click here

About Author

...     ...
Card image cap
Hemant Singh

Web developer | StartYourBlog
Web dev blogs | Poetry | Writer
CS(hons) DU
Never fear to start.
  

Read More Blogs
WANT YOUR BLOG SPACE   contact